रसगुल्ला बनाने की रेसिपी | Rasgulla Recipe in Hindi

रसगुल्ला हर किसी का फेवरेट स्वीट डिश होता है। बंगला में तो ये डिश बहुत फेमस और स्वादिष्ट मिलती हे, बंगाल रसगुल्ला के लिए ही सबसे ज्यादा पहचाना जाता है। ये डिश इतनी स्वादिष्ट हे की इसके वजासे ये डिश बहुत सारे राज्योमे बहुत ज्यादा फेमस है।

लोगोंको हलवाई जैसे रसगुल्ला खाना बहुत पसंद है, क्योंकि उन्हें रसगुल्ला केसे बनाते हे ये पता नही होता। तो आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से रसगुल्ला बनाने की रेसिपी बताने वाले हे।

रसगुल्ला बनाने की रेसिपी

सामग्री:

1.5 लीटर (7 कप) दूध

2 बड़े चम्मच नींबू का रस

2 छोटी चम्मच अरारोट

4 कप चीनी

2 कप पानी

रसगुल्ला बनाने के लिए विधि:

  1. रसगुल्ला बनाने के लिए पहले सबसे महत्वपूर्ण चीज छेना होती है। अगर छेना नहीं तो रसगुल्ला नही बन सकता। अगर आपको छेना नहीं बनाना तो आप बाहर से भी छेना ला सकते है।
  2. छेना बनाने के लिए पहले एक पतीला लीजिए और उसमे दूध डालकर उसे मध्यम आंच के गैस पर गरम कीजिए।
  3. गरम होने के बाद मतलब दूध को उबाल आने के बाद, गैस बंद किजिए और दूध के पतीले को साइड में रखे।
  4. दूध को ठंडा होने के लिए रखे, अगर दूध ठंडा होगया होगा तो उसमे थोड़ा नींबू का रस डालकर दूध को फाड़े।
  5. अभ छेना और दूध अलग होजाएगा, एक सूती कपड़े के सहायता से छेना को अलग कीजिए।
  6. छेना को एक थाली में निकल लीजिए और छेना को मसल मसल कर 5 मिनिट के लिए चिकना बना ले, छेना का आटा बना ले।
  7. छेना के छोटे छोटे गोले बना ले।
  8. रसगुल्ला की चाशनी सबसे महत्वपूर्ण होती है, अगर चाशनी नही होगी तो रसगुल्ला का टेस्ट ही नही आएगा।

चाशनी बनाने की विधि:

एक बर्तन लीजिए और उसमे चीनी और थोड़ा पानी डालकर उसे मध्यम आंच के गैस पर गरम कीजिए। ये आपकी चाशनी तयार हे, चाशनी में उबाल आने के बाद उसमे छेने के गोले को डाले।

20 मिनिट के लिए छेना के गोले को चेक करते रहे। 7 से 8 मिनिट के बाद चाशनी गाढ़ी होने लगती है इसलिए थोड़ा पानी एड करते रहे। रसगुल्ला पक जाने के बाद गैस बंद किजिए। और रसगुल्ला और चाशनी को ठंडी होने के लिए रख दे।

आपके रसगुल्ला और चाशनी अभी तयार हे, आप अभी भी ये रसगुल्ला खा सकते हे याफिर 10 से 12 घंटे बाद रसगुल्ला को अच्छा टेस्ट आने के बाद खा लीजिए। ये रसगुल्ला आप 10 से 15 दिनों के लिए स्टोर कर सकते हैं।

Related posts

Leave a Comment